The Lipstick Boy | ‘लौंडा नाच’ परंपरा पर प्रकाश डालती है निर्देशक अभिनव ठाकुर की ‘द लिपस्टिक बॉय’

मुंबई : बीते कई वर्षों से उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh), बिहार (Bihar) और इसके आपस के इलाकों में लौंडा नाच (Launda Dance) की परंपरा काफी प्रसिद्ध रही है। पुरुषों को महिला के भेस में नृत्य करते हुए देखने का मनोरंजन तो लोगों ने पाया लेकिन बेहद कम ही लोग उनके संघर्षों की दास्तां को जानते हैं। उनकी इसी कहानी को एक फिल्म के माध्यम से पेश करने जा रहे हैं निर्देशक अभिनव ठाकुर। उनकी अपकमिंग फिल्म ‘द लिपस्टिक बॉय’ लौंडा नाच की इसी परंपरा को बखूभी दर्शाती नजर आएगी।

फिल्म पर चर्चा करने विशेष रूप से नवभारत कार्यालय पहुंचे अभिनव ने बताया कि उनकी ये फिल्म लौंडा नाच की परंपरा शुरू करने वाले भिखारी ठाकुर और उनके सिद्धांतों को समर्पित की है। बिहार में सेट की गई इस फिल्म की कहानी को बिहार सरकार प्रोमोट करेगी। ठाकुर ने बताया कि इस फिल्म का टैग लाइन है ‘लोगों ने गालियां भी दी और तालियां भी दी’ जिसके जरिये वो लौंडा नाच करने वाले पुरुषों की व्यथा को दर्शाएंगे।

यह भी पढ़ें

अमिताभ बच्चन ने दी आवाज

अभिनव ने बताया कि ‘जब बिग बी को इस प्रोजेक्ट के बारे में जानकारी मिली तो उन्होंने इसमें बढ़-चढ़कर दिलचस्पी दिखाई और इसमें अपनी आवाज भी दी।’ वें बताते हैं कि इसके लिए महानायक ने उनसे किसी प्रकार की फीस नहीं ली। अभिनव की इस फिल्म में मनोज पटेल, श्रीपर्ण चक्रवर्ती और अरविंद फुललपरी अहम भूमिकाओं में नजर आएंगे। अभिनव ने कहा कि बेटे कुछ समय में दर्शकों ने इंडिपेंडेंट सिनेमा को काफी सराहा है और उन्हें आशा है कि उनकी ये फिल्म को ऑडियंस को पसंद आएगी।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles