Janhit Mein Jaari Movie Review | सेक्शुअल हेल्थ पर प्रकाश डालती इस फिल्म में नुसरत भरुचा ने दिया बेहद अहम संदेश

जनहित में जारी फिल्म पोस्टर (Photo Credits: Instagram)

नुसरत भरुचा ने निर्देशक व लेखक राज शांडिल्य के साथ फिल्म ‘ड्रीम गर्ल’ से दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया था. इस बार वो फिल्म ‘जनहित में जारी’ में मनु के किरदार में डेब्यू एक्टर अनूद सिंह ढाका जो यहां रंजन का करैक्टर प्ले कर रहे हैं, उनके साथ मिलकर न सिर्फ दशकों का मनोरंजन करेंगी बल्कि उन्हें एक अहम संदेश भी देंगी.

फिल्म: जनहित में जारी 

कास्ट:नुसरत भरुचा, अनूद सिंह ढाका, विजय राज, परितोष त्रिपाठी और टीनू आनंद

निर्देशक: जय बसंतु सिंह

रेटिंग्स: 3.5 स्टार्स 

कहानी: नुसरत भरुचा ने निर्देशक व लेखक राज शांडिल्य के साथ फिल्म ‘ड्रीम गर्ल’ से दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया था. इस बार वो फिल्म ‘जनहित में जारी’ में मनु के किरदार में डेब्यू एक्टर अनूद सिंह ढाका जो यहां रंजन का करैक्टर प्ले कर रहे हैं, उनके साथ मिलकर न सिर्फ दशकों का मनोरंजन करेंगी बल्कि उन्हें एक अहम संदेश भी देंगी. समाज में अधिकांश लड़कियों की तरह मनु पर भी शादी का प्रेशर है लेकिन उससे पहले वो अपने सपने पूरे करना चाहती है और कुछ बनने की चाह रखती है. इसी जद्दोजगद में वो एक कंडोम सेल्स वुमन की नौकरी स्वीकार कर लेती है जहां शुरुआत में उन्हें कई चुनौतियों को सामना करना पड़ता है. इसी सफर में मनु को समझ आता है कि भारत में हर वर्ष गर्भपात के चलते कई लडकियां अपनी जान गंवा देती हैं. इसके बाद मनु न सिर्फ पैसों के लिए बल्कि समाज की सोच बदलने तथा उन्हें कंडोम के महत्त्व को समझाने के लिए पूरी लगन के साथ इस कार्य में जुट जाती है. ‘एक महिला होकर कंडोम सेलर’ इस टैग के चलते उन्हें न सिर्फ घर के बाहर बल्कि अपने मायके और सुसराल में भी काफी परेशानियां उठानी पड़ती है. लेकिन अंत में उनकी सच्ची निष्ट और उनके नेक कामों की सराहना होती है.

अभिनय:पिछली फिल्मों के मुक़ाब नुसरत यहां बेहद अलग किरदार में नजर आई. जिस बेबाकी से वो अपने इस रोल को अदा करती हैं वो बेहद दिलचस्प है. साथ ही स्क्रीन पर जिस कॉन्फिडेंस के साथ वो अपने सीन्स परफॉर्म करती हैं, ये भी सराहनीय है. डेब्यू एक्टर के रूप में अनूद ने भी खूब एंटरटेन किया. एक बेटे और एक पति होने की जिम्मेदारी के बीच दबे रंजन के किरदार को उनके बखूभी निभाया. विजय राज भी यहां एक पितृसत्तात्मक विचारधारा रखने वाले व्यक्ति के रूप में काफी मेच्योर अंदाज में दिखाई दिए. परितोष भी यहां मनु के प्रेमी के रूप में खूब हंसाते हैं.

म्यूजिक: अमन पन्त ने बतौर म्यूजिक डायरेक्टर यहां बेहद उम्दा काम किया है. फिल्म का गीत ‘चली रे बाजार’ और ‘उड़ा गुलाल इस्ख वाला’ काफी मनोरंजक है और ये आपको थिरकने पर मजबूर कर देगा. 

फाइनल टेक: जैसा की फिल्म का टाइटल है, ये महज एक कहानी नहीं बल्कि एक संदेश है समाज के उन लोगों को जो सेक्शुअल हेल्थ को गंभीरतापूर्ण नहीं लेते. फिल्म में कॉमेडी के माध्यम से बताया गया कि किस तरह से एक कंडोम के इस्तेमाल से न सिर्फ पुरुष बल्कि स्त्री को भी अनेकों स्वास्थ्य संबंधित परेशानियों से सुरक्षित रखा जा सकता है. एक लेखक के रूप में राज शांडिल्य ने बेहद शानदार ढंग से समाज को सेफ सेक्स का पैगाम दिया है. फिल्म में कई ऐसे डायलॉग्स हैं जो आपको पसंद आएंगे. एक सरल सादे गांव और घर में सेट इस फिल्म की कहानी से आप काफी हद तक जुड़ सकेंगे और सिनेमाघरों में ये आपको बड़ी ही समझदारी और सहजता के साथ सेक्शुअल हेल्थ जैसे विषय पर जागरूक करेगी, जिस पर आमतौर पर लोग खुलकर बात नहीं करते. फिल्म की कहानी, इसके कलाकरों द्वारा शानदार परफॉर्मेंस और साथ ही इसका मैसेज आपको बेहद इम्प्रेस करेगा.

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles

Ek Villain Returns Trailer | ‘एक विलेन रिटर्न्स’ का ट्रेलर हुआ रिलीज, दिखा विलेंस का दमदार अंदाज

मुंबई: 'एक विलेन रिटर्न्स (Ek Villain Returns)' फिल्म रिलीज के लिए पूरी तरह से तैयार है। फिल्म 29 जुलाई 2022 को सिनेमाघरों में रिलीज...