Anupam Kher Actor Prepares the School for Actors | सलाम बॉम्बे फाउंडेशन के 3 विद्यार्थियों का अनुपम खेर के अभिनय संस्थान में हुआ चयन, मिली छात्रवृत्ति

मुंबई : सलाम बॉम्बे फाउंडेशन (Salaam Bombay Foundation) के आर्ट्स विद्यार्थियों (Arts Students) को भारत के प्रमुख अभिनय संस्थान (Acting Institute) बॉलीवुड (Bollywood) के दिग्गज (Veteran) अभिनेता (Actor) अनुपम खेर के ‘एक्टर प्रीपेयर्स द स्कूल फॉर एक्टर्स’ में भाग लेने का मौका मिला है। जिसमें उन्हें थियेटर और कैमरा एक्टिंग की कला सिखाई जाएगी। इस संस्थान से बॉलीवुड एक्ट्रेस कियारा आडवाणी, दीपिका पादुकोण, अनन्या पांडे और एक्टर वरुण धवन जैसे सितारों ने भी शिक्षा लिया है। ये संस्थान मुंबई के अंधेरी वेस्ट में स्थित है। इस संस्थान के परिसर में 7 मई को एक विशेष वर्कशॉप का आयोजन किया गया था।

इस आयोजन में सलाम बॉम्बे फाउंडेशन के विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया था। जिसमें कुल 25 छात्रों में से तीन छात्रों का चयन हुआ है। जिनको एक्टर और परफॉर्मर के तौर पर कॅरियर बनाने का मौका मिलेगा साथ ही इन तीन विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति भी दिया गया है। इन चयनित विद्यार्थियों को ‘अनुपम खेर एक्टर प्रीपेयर्स द स्कूल फॉर एक्टर्स’ से पूरा सहयोग मिलेगा। जिसमें उन्हें कला की बारीकियों को सिखाया जाएगा। इस वर्कशॉप में 20 वर्षीय सिद्धेश पारधी ने भी भाग लिया। जिन्होंने इस अवसर के लिए धन्यवाद किया है। सिद्धेश पारधी इस वर्ष सेकंड ईयर कॉलेज के विद्यार्थी है।

यह भी पढ़ें

यह अनुभव बहुत कुछ सिखाने वाला रहा, हमें उपयोगी जानकारी मिली। सबसे अच्छी बात थी हमें ऐसे मेंटर्स से सीखने का मौका मिलना, जिन्होंंने हमारी फिल्म और टेलीविजन इंडस्ट्री के सर्वश्रेष्ठ में से कुछ एक्टर्स को सिखाया है। यह अनुभव हम सभी को ताउम्र याद रहेगा।

प्रियंका कोटवाल, सहायक ट्रेनर, सलाम बॉम्बे फाउंडेशन

जिन्होंने कोरोना काल में कई कठिनाइयों का सामना किया है। उनकी मां पेशे से एक दर्जी है। जिनका काम भी कोविड- 19 की महामारी में छूट गया। अब वो अपनी एक छोटी सी बेकरी चलाती है। जिसमें सिद्धेश पारधी उनका हाथ बटाते है। सिद्धेश पारधी अपने 10 साल की उम्र से ही एक्टिंग के दीवाने है। उन्हें बचपन से ही फिल्मों का बहुत शौक है। यहां तक कि वो एक्टर्स का नकल भी करते है। इस जुनून के चलते सिद्धेश पारधी अपने 12 साल की उम्र में सलाम बॉम्बे फाउंडेशन के थियेटर एकेडमी में कदम रखे। जहां उन्होंने कुछ ही महीनों में अपनी पटकथाएं सुधारना शुरू कर दिया और अपनी खुद की शैली बनाने लगे।

इस वर्कशॉप में आने के बाद शुरुआत में मेरा कॉन्फिडेंस लेवल थोड़ा कम था, लेकिन बाद में सुधीर सर के सिखाने के तरीके से मुझे कॉन्फिडेंस आ गया। इस वर्कशॉप से मेरी नर्वसनेस कम और एक्टिंग की दुनिया में आगे बढ़ने का हौसला और बुलंद हो गया है।

अभिषेक वाघमारे, स्टूडेंट

7वीं कक्षा से वो थियेटरों में भाग लेना शुरू कर दिए और स्थायनीय मंचों पर प्रस्तुति भी देने लगे। उनके इसी टैलेंट और लगन को देखकर उन्हें रानी मुखर्जी की बॉलीवुड फिल्म ‘हिचकी’ में एक रोल करने का मौका मिला। इसके बाद सिद्धेश ‘क्राइम पेट्रोल’ के दो एपिसोड्स में भी नजर आए। प्रियंका कोटवाल की भी कहानी सिद्धेश पारधी से काफी मिलती-जुलती है। उन्हें भी एक्टिंग काफी पसंद है। उन्होंने भी इस वर्कशॉप में भाग लिया। प्रियंका कोटवाल के पिता एक ऑटो रिक्शाा चालक हैं। प्रियंका कोटवाल अपने परिवार के साथ बोरिवली में रहती हैं, उन्होंने कभी भी किसी भी तरह की कमी को अपने एक्टिंग के आड़े नहीं आने दिया।

हम अनुपम खेर के बहुत आभारी हैं और अभिनेता हमारे छात्रों को अभिनेता के रूप में सीखने और विकसित होने का अवसर देने के लिए तैयार हैं। उन्होंने वंचितों को एक अनूठा अवसर और मंच प्रदान किया है। शहरी झुग्गी बस्तियों के बच्चों को बराबरी पर प्रतिस्पर्धा करने और अपने सपनों को पूरा करने का मौका दिया।

देवयानी सिंह, महाप्रबंधक, सलाम बॉम्बे फाउंडेशन

प्रियंका कोटवाल को अपनी एक्टिंग के जुनून का पता तब चला जब वो अपने स्कूल में सलाम बॉम्बे फाउंडेशन के एक थियेटर सेशन में भाग ली। 8वीं कक्षा से वो थिएटर वर्कशॉप्स, और परफॉर्मेंसेस में भाग लेना शुरू की और फिर कभी पीछे मुड़कर नहीं देखी। प्रियंका कोटवाल सलाम बॉम्बे फाउंडेशन की थियेटर एकेडमी में सहायक ट्रेनर हैं और बीते समय में वो जानी-मानी अभिनेत्री, लेखिका, निर्देशक और कठपुतली के खेल में एक्सपर्ट मीना नाइक के साथ अभिनय कर चुकी हैं। वो यूट्यूब पर एक सीरीज में भी नजर आ चुकी हैं और वो कई एनिमेटेड शोज के लिये अनगिनत वॉइसओवर कर चुकी हैं। उनका सपना थियेटर में कॅरियर बनाने और भविष्य में पटकथा लेखन और निर्देशन करने का है।

सलाम बॉम्बे फाउंडेशन के युवाओं के लिए हमारी एक्टिंग वर्कशॉप एक्टर प्रिपेयर्स के संस्थापक और चेयरमैन अनुपम खेर के विजन के अनुरूप है, जो वंचित युवाओं को सशक्त बनाने के लिए पेशेवर कौशल प्रशिक्षण के साथ उन्हें उनके सपने को साकार करने में मदद करता है। पेशेवर अभिनय को करियर के रूप में अपनाने के साथ-साथ इस जुनून का पालन करने के लिए उनके आत्मविश्वास और क्षमता को बढ़ाया है।

सुवीर भंबानी, एक्टिंग कोच, एक्टर प्रिपेयर्स

अनुपम खेर का एक्टर प्रीपेयर्स संस्थान मुंबई में 2005 में एक्टर्स के लिये एक पेशेवर ड्रामा स्कूल के तौर पर शुरू किया गया था। जिससे विद्यार्थी आधुनिक तकनीकों और विधियों से इस कला को सीख सकें। यह विश्व में एकमात्र संस्थाान है, जिसका नेतृत्व एक ऐसे दिग्गज अभिनेता द्वारा किया जाता है, जो पेशेवर तौर पर अब भी सक्रिय है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles