आज 1545 पॉइंट्स गिरा सेंसेक्स, लगातार 5वें दिन गिरावट से इन्वेस्टर्स के 19.48 लाख करोड़ डूबे

0
155

हफ्ते के पहले दिन भी शेयर बाजार में गिरावट का ट्रेंड जारी है। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) का सेंसेक्स 1,545 पॉइंट्स (2.62%) गिर कर 57,491 और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 468 अंक (2.66%) टूटकर 17,149 पर बंद हुआ। इस वजह से निवेशकों के 9.56 लाख करोड़ रुपए डूब गए। शुक्रवार को मार्केट कैप 270 लाख करोड़ रुपए था जो आज 260.44 लाख करोड़ रुपए रहा।

पिछले सोमवार को मार्केट कैप 280 लाख करोड रुपए था। तब से इसमें 19.48 लाख करोड़ रुपए की कमी आई है।

नई एज की कंपनियों के शेयर्स में भारी गिरावट

नायका, जोमैटो, पॉलिसीबाजार और पेटीएम जैसी कंपनियों के स्टॉक जमकर पिटे हैं। शेयर बाजार में गिरावट का यह ट्रेंड पिछले 5 दिन से जारी है। आज बाजार में 1,545 अंकों की गिरावट 5 दिन में सबसे ज्यादा है। पिछले मंगलवार को इसमें 554, बुधवार को 656, गुरुवार को 634 और शुक्रवार को 427 अंक की गिरावट आई थी।

टाटा स्टील और बजाज फाइनेंस सबसे ज्यादा गिरे

सेंसेक्स में सबसे ज्यादा गिरावट टाटा स्टील और बजाज फाइनेंस में रही। यह दोनों शेयर करीबन 6% गिरे। विप्रो, टेक महिंद्रा और टाइटन के शेयर 5-5% से ज्यादा टूटे। मार्केट कैप के लिहाज से सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज का स्टॉक 4% जबकि HCL टेक, कोटक महिंद्रा बैंक, बजाज फिनसर्व, एशियन पेंट्स के शेयर्स 3.5-3.5% गिरकर बंद हुए।

नई एज की कंपनियों के स्टॉक एक साल के निचले स्तर पर आ गए।

  • जोमैटो का शेयर 20% गिरा
  • नायका 13%, पॉलिसीबाजार 10% टूटा
  • पेटीएम का स्टॉक 6% टूटा

गिरावट से कोई नहीं बचा

इंफोसिस, ITC, महिंद्रा एंड महिंद्रा, HDFC बैंक और HDFC में 2-2% से ज्यादा की गिरावट रही। SBI, मारुति, TCS और हिंदुस्तान यूनिलीवर के शेयर 1.5-1.5% से ज्यादा गिरे। एक पर्सेंट से कम गिरने वालों में केवल एयरटेल, ICICI बैंक, पावरग्रिड और इंडसइंड बैंक रहे।

14 पॉइंट्स नीचे खुला था सेंसेक्स

सेंसेक्स आज 14 पॉइंट्स नीचे 59,023 पर खुला था और यही इसका पहले घंटे में ऊपरी स्तर भी था। इसका निचला स्तर 57,117 का था। सेंसेक्स के सभी 30 शेयर्स गिरावट के साथ बंद हुए। सबसे ज्यादा गिरने वाले शेयर्स में एशियन पेंट्स, डॉ. रेड्‌डी, विप्रो और HCL टेक हैं।

गिरावट के तीन प्रमुख कारण

अमेरिका में ब्याज दरें बढ़ने के संकेत, यूक्रेन और रूस के बीच तनाव और विदेशी निवेशकों द्वारा लगातार भारतीय बाजार में बिकवाली। बाजार में गिरावट का मुख्य कारण अमेरिका के सेंट्रल बैंक फेडरल रिजर्व बैंक की कल से शुरू हो रही बैठक है। इसमें पूरी उम्मीद है कि ब्याज दरें बढ़ाने का फैसला लिया जाएगा। इसका फैसला 26 जनवरी को होगा। हालांकि उस दिन भारतीय बाजार गणतंत्र दिवस की वजह से बंद रहेंगे। इसका असर 27 जनवरी को दिख सकता है।

  • बजाज फाइनेंस और टाटा स्टील 6-6% टूटे
  • टेक महिंद्रा का शेयर 5% गिरा

921 शेयर लोअर सर्किट में

सेंसेक्स के 259 स्टॉक अपर और 921 लोअर सर्किट के साथ बंद हुए। इसका मतलब यह हुआ कि एक दिन में इनमें एक तय सीमा से ज्यादा की न तो गिरावट हो सकती है और तेजी आ सकती है।

निफ्टी 15,575 पर खुला था

निफ्टी 17,575 पर खुला था और इसका उपरी स्तर 17,599 जबकि निचला स्तर 16,997 था। यह 468 पॉइंट्स की गिरावट के साथ 17,149 पर बंद हुआ। इसके 50 शेयर्स में से 2 बढ़त में और 48 गिरावट में रहे। इसके मिडकैप, नेक्स्ट 50, बैंक और फाइनेंशियल इंडेक्स नीचे हैं। गिरने वाले प्रमुख शेयर में JSW स्टील, हिंडालको, एशियन पेंट्स, टेक महिंद्रा हैं।

केवल दो स्टॉक बढ़े

निफ्टी के बढ़ने वाले प्रमुख स्टॉक में ONGC, सिप्ला हैं। इससे पहले शुक्रवार को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) का सेंसेक्स 427 पॉइंट्स (0.72%) गिर कर 59,037 और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 140 अंक (0.79%) गिरकर 17,617 पर बंद हुआ था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here