Maharashtra Political Crisis | उद्धव गुट पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, CM शिंदे सहित 16 बागी विधायकों को सस्पेंड करने की मांग

File Pic

नई दिल्ली/मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुंबई (Mumbai) से आ रही एक नदी खबर के अनुसार, शिवसेना के व्हीप प्रमुख सुनील प्रभु ने आज महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) और उन 15 अन्य विधायकों के सदन से निलंबन की मांग करते हुए सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है, जिनके खिलाफ पहले से ही अयोग्यता याचिकाएं दायर की गई हैं।

इस मुद्दे पर बाबत उद्धव गुट और सुनील प्रभु का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट को इसपर सुनवाई करनी चाहिए ताकि संविधान की दसवीं अनुसूची प्रभाव में बनी रहे और उसका कोई भी उल्लंघन ना हो।  इस याचिका में ऐसा आरोप लगाया गया है कि डिप्टी स्पीकर को इस वक़्त जैसे असहाय कर दिया गया है।  

गौरतलब है कि इससे पहले डिप्टी स्पीकर नरहरि जिरवाल ने 16 बागी विधायकों के खिलाफ अयोग्यता की कार्यवाही की शुरुआत करते हुए एक नोटिस भेजा था।  हालाँकि बाद में शिंदे गुट के विधायकों ने डिप्टी स्पीकर पर भेदभाव करने का आरोप लगाया था।  

बता दें कि बीते गुरूवार को ही एकनाथ शिंदे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली है।  इस वक़्त शिवसेना के बागी विधायकों ने BJP के साथ मिलकर नई सरकार बनाई है।  वहीं इस नयी सरकार में देवेंद्र फडणवीस डिप्टी CM के पद पर आसीन हैं।  

 

 

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles