IRCTC में हिस्सेदारी बेचेगी सरकार

0
233
IRCTC में हिस्सेदारी बेचेगी सरकार

IRCTC (Indian Railway Catering and Tourism Corp) में सरकार अपनी हिस्सेदारी बेचने की तैयारी में है। सरकार इसी फिस्कल ईयर में स्टेक सेल करने वाली है और इसके लिए मर्चेंट बैंकर्स से बोलियां भी मंगा ली हैं। सरकार ऑफर फॉर सेल के जरिए हिस्सेदारी बेचेगी। अभी IRCTC में सरकार की हिस्सेदारी 87.40 फीसदी है। मार्केट रेगुलेटर सेबी के नियमों के मुताबिक सरकार को अपनी हिस्सेदारी घटाकर 75 फीसदी पर लाना है। मर्चेंट बैंकरों को 10 सितंबर तक बोली जमा करनी है। IRCTC के शेयर BSE पर बुधवार के बंद भाव के मुकाबले 1.20 प्रतिशत टूटकर 1,346.65 रुपए प्रति शेयर पर बंद हुआ है।                                       

IRCTC की लिस्टिंग अक्टूबर 2019 में हुई थी। तब कंपनी ने IPO के जरिए 645 करोड़ रुपए जुटाये थे। कंपनी भारतीय रेलवे में खानपान सेवा, ऑनलाइन टिकट बुकिंग और रेलवे स्टेशनों पर बोतलबंद पेय जल उपलब्ध कराने वाली इकलौती कंपनी है। सरकार ने इस फिस्कल ईयर में विनिवेश के जरिये 2.10 लाख करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य रखा है। इसमें से 1.20 लाख करोड़ रुपये सार्वजनिक उपक्रमों के विनिवेश से तथा 90,000 करोड़ रुपये वित्तीय संस्थानों में हिस्सेदारी बिक्री के जरिये प्राप्त करने का लक्ष्य रखा गया है।                                     

कोरोना वायरस महामारी और उसका इक्विटी बाजार पर पड़े असर के कारण दीपम चालू वित्त वर्ष में अब तक किसी भी केंद्रीय लोक उपक्रम (CPSE) में हिस्सेदारी बेच नहीं पाया है। हालांकि भारत बांड ETF-II के जरिये सरकार ने CPSE के AAA रेटिंग वाले बांड के जरिये 11,000 करोड़ रुपए जुटाये हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here