चीन को मात देने के लिए भारत ने म्यांमार को दिया बड़ा प्रस्ताव

0
465
चीन को मात देने के लिए भारत ने म्यांमार को दिया बड़ा प्रस्ताव

चीन जहां म्यांमार के साथ ऊर्जा सहयोग को मजबूत कर रहा है, वहीं भारत इस रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण क्षेत्र में अपना प्रभाव बढ़ाने की कोशिश कर रहा है। इसीलिए भारतीय विदेश सचिव हर्ष श्रृंगला और सेना प्रमुख एमएम नरवाने की म्यांमार यात्रा महत्वपूर्ण है।

यात्रा के दौरान, भारत और म्यांमार में पेट्रोलियम रिफाइनरियों की स्थापना पर चर्चा हुई। म्यांमार में स्थापित होने वाली इस पेट्रोलियम रिफाइनरी में छह बिलियन डॉलर का निवेश किया जाएगा। सूत्रों ने कहा कि भारत ने यंगून के पास थानलिन क्षेत्र में पेट्रोलियम रिफाइनरी स्थापित करने का प्रस्ताव दिया है। यह टाइम्स ऑफ इंडिया द्वारा रिपोर्ट किया गया था।

चीन को मात देने के लिए भारत ने म्यांमार को  दिया बड़ा प्रस्ताव

सूत्र ने कहा, “अब तक इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने परियोजना में दिलचस्पी दिखाई है, जो दोनों देशों के लिए फायदेमंद है।” म्यांमार के ऊर्जा क्षेत्र में अकेले चीन का 70 प्रतिशत विदेशी निवेश है।

हर्ष श्रृंगला और सेना प्रमुख एमएम नरवाने ने म्यांमार की राष्ट्रीय नेता आंग सान सू की और रक्षा सेवा के प्रमुख जनरल मिन आंग के कमांडर-इन-चीफ से मुलाकात की। दोनों पक्षों ने सीमा क्षेत्रों में सुरक्षा और स्थिरता बनाए रखने पर चर्चा की। बैठक में यह भी तय किया गया कि अपनी जमीन को एक दूसरे के खिलाफ इस्तेमाल करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। भारत ने म्यांमार में शरण लेने वाले 22 विद्रोहियों के प्रत्यर्पण के म्यांमार के फैसले की सराहना की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here